प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal)

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal)

प्रागैतिहासिक काल का इतिहास

आज हम प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) के इतिहास के विषय में पूर्ण अध्ययन करेंगे । आज हम प्रागैतिहासिक काल के नोट्स pfd में , प्रागैतिहासिक काल से सम्बंधित प्रश्न एवं उत्तर इतियादि का अध्ययन करेंगे ।

क्रेडिट – प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) ke लिए बांये जाने वाले notes Lucent’s की सामान्य ज्ञान से लिया गया है । Lucent’s की सामान्य ज्ञान की पुस्तक की सामग्री आप इस पोस्ट से पढ़ सकते है ।

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal)

जिस काल में मनुष्य ने घटनाओ का कोई लिखित विवरण उद्धत नहीं किया , प्रागैतिहासिक काल कहलाता है । प्रागैतिहासिक काल को मुख्य तीन भागो में बाँट दिया गया है । Pragaitihasik Kal का समय 500000 ई.पू. से 2500 ई.पू. तक

1 . प्रस्तर युग अथवा पुरापाषाण काल

2 . मध्यपाषाण काल

3 . नवपाषाण काल

हम इन तीनो काल से विषय में आगे अध्ययन करेंगे , इस पोस्ट में हम प्रागैतिहासिक काल का अध्ययन करेंगे ।

प्रागैतिहासिक काल और इतिहास में क्या अंतर है

जिस समय अथवा काल में मनुष्य लिखना पड़ना नहीं सीखा था अथवा जिस काल में मनुष्य ने घटनाओ का कोई विवरण उद्धत नहीं किआ , उसे प्रागैतिहासिक काल कहा जाता है ।

ठीक इसके विपरीत जिस काल का विवरण लिखित रूप से उपलब्ध है , मानव विकास के उस काल को इतिहास कहा जाता है ।

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) के नोट्स 

आध इतिहासिक काल उस काल को कहते है , जिस काल में लेखन कला के प्रचलन के बाद उपलब्ध लेख पढ़े नहीं जा सके है ।

ज्ञानी मानव ( होमोसैपियन्स ) का प्रवेश इस धरती पर आज से लगभग तीस या चालीस साल पहले हुआ ।

Pragaitihasik Kal के पूर्व पाषाण काल के अनुसार मानव की जीविका का मुख्य आधार शिकार था ।

आग का अविष्कार पूरा पाषाणकाल में हुआ एवं पहिये का अविष्कार नव पाषाणकाल में हुआ ।

मनुष्य में स्थायी निवास की प्रवृति नव पाषाणकाल में हुई तथा उनसे सबसे पहले कुत्ता को पालतू बनाया ।

मनुष्य ने सर्वप्रथम तांबा धातु का प्रयोग किया तथा उसके द्वारा बनाया जानेवाला प्रथम औजार कुल्हाड़ी ( प्राप्ति स्थल – अतिरमपक्कम ) था ।

कृषि का अविष्कार Pragaitihasik Kal के नव पाषाणकाल में हुआ । प्रागैतिहासिक अन्न उत्पादक स्थल मेहरगढ़ पश्चिमी बलूचिस्तान में अवस्थित है । कृषि के लिए अपनाई गई सबसे प्राचीन फसल गेंहू ( पहली फसल ) एवं जौ है ।

पल्लावरम नामक स्थान पर प्रथम भारतीय पुरापाषाण कलाकृति की खोज हुई थी ।

भारत में Pragaitihasik Kal के पूर्व प्रस्तर युग के अधिकांश औजार पत्थर के बने थे ।

राबर्ट ब्रूस फुट पहले व्यक्ति थे जिन्होंने 1863 ई में भारत में पुरापाषाण कालीन औजारों की खोज की ।

भारत का सबसे प्राचीन नगर मोहनजोदड़ो था , सिंधी भाषा में जिसका अर्थ है , मृतकों का टीला ।

असम का श्वेतभ्र गिबन भारत में पाया जाने वाला एक मात्र मनभाव कपि है ।

इनामगांव ताम्रा पाषाण युग की एक बड़ी बस्ती थी । इसका सम्बन्ध जोर्वे संस्कृति से है ।

भारत में शिवालक की पहाड़ी से जीवाश्म का प्रमाण मिला है । भारत में मनुष्य सम्बन्धी सबसे पहला प्रमाण नर्मदा घाटी में मिला है ।

नोट – भारतीय नागरिक सेवा के अधिकारी रिजले प्रथम व्यक्ति थे , जिन्होंने प्रथम बार वैज्ञानिक आधार पर भारत की जनसँख्या का प्रजातीय विभेदीकरण किया ।

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) PDF

यह भी पढ़े ( You Should Read This )

नोट – यदि आपको हमारे पोस्ट अथवा Quiz , Notes में दिए हुए प्रश्नो में कोई त्रुटि नजर आती है , अथवा आपको कोई आपत्ति है तो कृपया हमें comment जरूर करे । जिससे हम भविष्य में आपको त्रुटि रहित नोट्स उपलब्ध करा पाए ।

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) Quiz

[ld_quiz quiz_id=”9614″]

आशा करते है आपको हमारे द्वारा दिए गए नोट्स एवं Quiz अथवा Practice Set पसंद आया होगा । हमरे साथ जुड़े रहने के लिए धन्यवाद् ।

Pragaitihasik Kal 500000 ई.पू. से 2500 ई.पू. तक - Crack Sarkari Naukri
काल Pragaitihasik Kal

प्रागैतिहासिक काल (Pragaitihasik Kal) के विषय में पूर्ण जानकारी , इतिहास , आग एवं पहिये का अविष्कार , औजारों की खोज इत्यादि जानकारी ले और प्रागैतिहासिक काल से सम्बंधित प्रश्नो को हल करे ।

Course Provider: Person

Editor's Rating:
4.8

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here